हेलो दोस्तो कैसे हो आप लोग उम्मीद करता हूं आप सब अच्छे होंगे। आप सभी को HindiMePro वेबसाइट में स्वागत करता हूं। आज फिर से आपके लिए और एक नया पोस्ट लेके आया हूं आज में आपको बताऊंगा वईफई का फुल फॉर्म क्या है (WIFI Full Form In Hindi) इसके साथ वईफई क्या है, वईफई का कैसे करता है, वईफई के फायदे क्या है बारे में तो चलिए जानते है।

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि इंटरनेट का अविष्कार कई सालों पहले ही हो गया था लेकिन उस समय हर कोई इसका इस्तेमाल नहीं कर पाता था क्योंकि इंटरनेट का इस्तेमाल करने के लिए बहुत सारी केबल की जरूरत पड़ती थी।

केबल्स के जरिए ही इंटरनेट का इस्तमाल किया जा सकता था लेकिन जैसे जैसे टेक्नोलॉजी को बेहतर बनाने की रफ्तार बढती गई वैसे वैसे जटिल चीजों को सरल बनाने की प्रक्रिया भी बदल दी गई। टेक्नोलॉजी में प्रतिदिन बदलाव की वजह से आखिर कंप्यूटर साइंटिस्ट ने वायर केबल की जगह एक ऐसा वायरलेस नेटवर्क बनाया जिसे वाईफाई कहते हैं और इसका इस्तेमाल आज हम और आप सभी जगह पर करते हैं।

आज से कुछ दस साल पहले इंटरनेट का इस्तेमाल करना सबके लिए मुमकिन नहीं था इसके लिए लोगों को इंटरनेट कैफे जाना पड़ता था लेकिन आज इंटरनेट सबके हाथों तक पहुंच चुका है और इसके लिए किसी केबल की जरूत नहीं पड़ती। वर्तमान समय में सभी लोग इंटरनेट का उपयोग करने में सक्षम हो रहे हैं। इसका सबसे ज्यादा श्रेय वाईफाई तकनीकी को जाता है। चाहे हम इंटरनेट का इस्तेमाल मोबाइल लैपटॉप या कंप्यूटर जिस में भी करना चाहें उसके लिए अब हम वाईफाई का उपयोग करते हैं तो चलिए आज के इस पोस्ट से हम आपको इसी लोकप्रिय टेक्नोलॉजी के बारे में पूरी जानकारी देंगे।

वईफई क्या है?

वाईफाई का पूरा पुराना वायरलेस फिडेलिटी है वाईफाई एक लोकप्रिय वायरलेस नेटवर्किंग टेक्नॉलजी का नाम है जो हाई स्पीड इंटरनेट और नेटवर्क कनेक्शन देने के लिए रेडियो सिग्नल का उपयोग करता है। इसका आविष्कार जॉन और सुलिवान और जॉन डीन ने सन 1991 में किया था। असल में ये एक वायरलेस नेटवर्किंग सुविधा है जिसे विलायत यानि वायरलेस लोकल एरिया नेटवर्क नाम से भी जानते हैं।ये एक ऐसी टेक्नॉलजी है जिसके जरिए आज हम इंटरनेट और नेटवर्क कनेक्शन का इस्तेमाल कर रहे हैं।

इसकी सहायता से आप बड़ी आसानी से मोबाइल लैपटॉप कंप्यूटर और प्रिंटर जैसी डिवाइसे को इंटरनेट और नेटवर्क से जोड़ सकते हैं। ये टेक्नोलॉजी लोकल एरिया नेटवर्क के अंतर्गत आती है। इसका मतलब है कि इसकी रेंज कम एरिया तक ही होती है। इसके जरिए हम एक सीमित स्थान तक इंटरनेट से जुड़ सकते हैं। सिर्फ इंटरनेट ही नहीं आजकल लोग इसके जरिए डेटा ट्रांसमिट भी करते हैं जैसे कि sharit, xender.

कहते हैं कि वायरलेस फिडेलिटी का असल में कोई मतलब नहीं है। असल में वाईफाई एलियंस कंपनी वाईफाई डिवाइस को बनाती है। इसका नाम हाईफाई यानी हाई फिडेलिटी से लिया गया है।

वाईफाई एक स्टैंडर्ड है जिसका पालन कर कंप्यूटर्स को वायरलेस नेटवर्क से जोड़ा जाता है। अभी के समय में जितने भी स्मार्टफोन लैपटॉप प्रिंटर और कंप्यूटर हैं इन सभी में एक वाईफाई चिप लगा दी है जिसके जरिए हम और आप रोउतेर  से कनेक्ट करते हैं और इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं।

वायरलेस रूटर के जरिये ही वाईफाई से डिवाइस कनेक्ट होकर इंटरनेट एक्सेस कर सकते हैं लेकिन रूटर को भी इंटरनेट से जुड़े रहने के लिए दिया सेल और केबल मुंडन का इस्तेमाल करना पड़ता है जो कि आईएसपी से जुड़ा हुआ होता है वरना इंटरनेट ऐक्सेस नहीं हो पाता है।आजकल कई तरह के हॉटस्पॉट डिवाइस भी आते हैं जैसे jiofi 4g जिसमें  सिग्नल के माध्यम से एक साथ कई डिवाइसेस में वाईफाई से इंटरनेट कनेक्शन हो जाता है।

वईफई का फुल फॉर्म क्या है – WIFI Full Form In Hindi

WIFI Full Form In Networking

नेटवर्किंग में वईफई का फुल फॉर्म Wireless Fidelity है।

वाईफाई काम कैसे करता है?

और अब हम जानेंगे कि वाईफाई काम कैसे करता है। वाईफाई टेक्नॉलजी में एक ऐसी डिवाइस लगी हुई है जो वायरलेस सिग्नल को ट्रांसमिट करती है जो कि आमतौर पर वाईफाई राउटर या हॉटस्पॉट होता है। इसमें वाले सूकर किसी इंटरनेट से जुड़कर सूचना को रेडियो तरंगों में बदल लेता है और वाईफाई डिवाइस वातावरण में मौजूद फाई संकेतों से कनेक्ट होकर अपने आसपास एक छोटा सा सिग्नल का एरिया बनाता है जिसे वाईफाई जोन कहते हैं।

ये छोटा सा एरिया एक वायरलेस लोकल एरिया नेटवर्क यानी डब्लू लाइन का रूप लेता है। इस छोटे से एरिया में जितनी भी डिवाइसेस होती हैं जैसे स्मार्टफोन लैपटॉप और प्रिंटर इन डिवाइसेस में इन बिल्ट वायरलेस एडॉप्टर होते हैं जिनकी मदद से बड़ी आसानी से ये डिवाइसेस वाईफाई सिग्नल को प्राप्त कर सकते हैं लेकिन डेस्कटॉप कंप्यूटर में इनबिल्ट वाईफाई एडॉप्टर नहीं होता इसीलिए हम उससे यूएसबी पोर्ट के माध्यम से लगा कर वाईफाई का इस्तेमाल कर सकते हैं।

वाईफाई के क्या क्या फायदे?

1. आइए अब हम जानते हैं कि वाईफाई के क्या क्या फायदे होते हैं पहला फायदा है यह टेक्नोलॉजी काफी यूजर फ्रेंडली है। आप बड़ी आसानी से कोई भी स्मार्टफोन टैबलेट या लैपटॉप को वाईफाई के साथ कनेक्ट कर सकते हैं लेकिन आपकी वह डिवाइस वाईफाई की रेंज भी होनी चाहिए।

2. पर है इसका इस्तेमाल करना बहुत आसान है बस आपको वाईफाई को ऑन करना है। अगर वह पासवर्ड है तो उसे डालकर वाईफाई से कनेक्ट कर इंटरनेट का मजा ले सकते हैं।

3. पहले हर जगह वाईफाई मिलना मुश्किल था लेकिन आज के समय में ये हर जगह अवेलबल होता है। वाईफाई की मदद से चलते फिरते कहीं से भी आप इंटरनेट का एक्सेस कर सकते हैं जैसे बस ट्रेन कॉफी शॉप सुपरमार्केट बस इन जगहों पर वाईफाई नेट पैक होना जरूरी है न बचा एक ही वाईफाई डिवाइस के साथ आप बहुत सारी दूसरे मोबाइल डिवाइसेज को कनेक्ट कर सकते हैं जैसे एक रूटर के साथ पांच से छह मोबाइल डिवाइस कनेक्ट कर सकते हैं। ये कनेक्शन बहुत ही जल्दी हो जाता है।

4. सेलुलर नेटवर्क की तुलना में वाईफाई राउटर की स्पीड काफी ज्यादा होती है। आप एक 1mbps से लेकर 100 mbps तक का लाभ उठा सकते हैं। वाईफाई से इंटरनेट एक्सेस करने पर डेटा ट्रांसफर की गति स्पीड होती है जिससे हम ऑडियो वीडियो और टेक्स्ट को आसानी से भेज और रिसीव कर सकते हैं।

आज हमने क्या सीखा?

आज की पोस्ट में हमने सीखा की वईफई का फुल फॉर्म क्या है ( WIFI Full Form In Hindi ), वईफई क्या है, वाईफाई काम कैसे करता है और वाईफाई के क्या क्या फायदे के बारे में। उम्मीद करता हूं ये पोस्ट आपको अच्छा लगा होगा अच्छा लगा हो तो इस पोस्ट को आप अपनी दोस्तो के साथ जरूर शेयर कर देना उनको भी पता चले की वईफई का फुल फॉर्म क्या है बारे में। तब तक के लिए जय हिन्द।

Author

Hi, I'm Mantu Sing, में hindimepro.in वेबसाइट का संस्थापक हूं। में इस वेबसाइट knowledge, Full Form, Biography, Trending Topic के बारे में हिंदी में पोस्ट लिखता हूं।

Write A Comment