Updated On June 17th, 2021

हेलो दोस्तो कैसे हो आप लोग उम्मीद करता हूं आप सब अच्छे होंगे। आप सभी को HindiMePro वेबसाइट में स्वागत है। इस पोस्ट में मेने एनएच क्या होता है, भारत में सबसे बड़ा रोड कौन सा है, राजस्थान का सबसे छोटा राजमार्ग कौनसा है, एनएच का फुल फॉर्म ( NH Full Form In Hindi ) बारे में बताया है।

दोस्तो क्या आप जानते हैं कि भारत का सड़क नेटवर्क दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा सड़क नेटवर्क है जो भारत के अंदर छोटे बड़े गांव शहरों कस्बों इत्यादि को जोड़ता है। भारत के सड़क नेटवर्क के अंदर एक्सप्रेसवे, नेशनल हाइवे, स्टेट हाईवे और अन्य छोटे छोटे जिले और उसके साथ ही कुछ ग्रामीण सड़कें भी शामिल हैं।.

एनएच क्या होता है?

एनएच का फुल फॉर्म नैशनल हाइवे है। नैशनल हाइवे सड़क का ऐसा ढांचा है जो भारत के सभी शहरों को जोड़ता है फिर चाहे वो बंदरगाह हो या फिर राज्यों की राजधानी इत्यादि हो। नेशनल हाइवे में 2-4 या फिर अधिक लेन होती हैं जो चारकोप या कोयला और सीमेंट कंक्रीट द्वारा निर्मित की जाती हैं।

नैशनल हाइवे को भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण 1988 द्वारा स्थापित किया गया था। यह प्राधिकरण राजमार्ग विकास रख रखाव और टोल संग्रह के लिए निजी और सार्वजनिक साझेदारी मॉडल का उपयोग करता है।

राष्ट्रीय राजमार्ग विकास परियोजना राजमार्गों के नेटवर्क को विस्तारित और अपग्रेड करने के लिए ही बनाई गई है। यह नेटवर्क सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के स्वामित्व में आता है। इसका निर्माण और प्रबंधन भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण राष्ट्रीय राजमार्ग और अवसंरचना विकास निगम और राज्य सरकारों के लोक निर्माण विभाग द्वारा किया जाता है।

देखा जाए तो हाइवे पर गति अनियंत्रित होती है और इसी कारण साइकिल चालकों के लिए और पैदल चलने वालों के लिए यहां पर चलना खतरनाक साबित हो सकता है। नैशनल हाइवे ने भारत की आर्थिक स्थिति को आगे बढ़ाने में एक बहुत अहम भूमिका निभाई है क्योंकि इन हाइवेज की वजह से ही तो कई शहरों के बीच व्यापार बड़ी आसानी से किया जाता है।

भारत में 228 राष्ट्रीय राजमार्ग हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग की कुल लंबाई 1 लाख 31 हजार 326 किलोमीटर है। इन राजमार्गों पर अधिकतम गति 80 किलोमीटर प्रतिघंटा हो सकती है जो कि दो पहिया वाहनों पर लागू होती है वहीं कारों के लिए अधिकतम गति इन राजमार्गों पर 100 किलोमीटर प्रतिघंटा हो सकती है।

सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 44 है जो कि 3745 किलोमीटर लंबा और उत्तर दक्षिण कॉरिडोर को कवर करता है। ये उत्तर में श्रीनगर से शुरू होता है और दक्षिण में कन्याकुमारी पर समाप्त होता है। भारत में सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 47A है जो एनएच 47 से कुन्नूर से शुरू होता है।

एनएच का पूरा नाम – NH Full Form In Hindi

NH Full Form In Land Transport

भूमि परिवहन में एनएच का फुल फॉर्म National Highway है।

NH Full Form In History & Geography

इतिहास और भूगोल में एनएच का फुल फॉर्म Northern Hemisphere है।

NH Full Form In States & Districts

राज्य और जिले में एनएच का फुल फॉर्म New Hampshire है।

एक्सप्रेस वे क्या होता है?

भारत में एक्सप्रेस वे में उच्च वर्ग की सड़कें होती हैं। ये 6 से 8 लाइनर होते हैं और मूल रूप से एक्सप्रेस वे आधुनिक सुविधाओं से युक्त होते हैं जिनमें एक्सेस रेम्प, ग्रेट सेपरेशन, लेन डिवाइडर और एलिवेटेड सेक्शन जैसी आधुनिक सुविधाएं होती हैं। इनमें प्रवेश और निकास छोटी सड़कों के उपयोग द्वारा नियंत्रित किया जाता है।

क्या आप जानते हैं कि एक्सप्रेसवे में कई स्मार्ट और इंटेलीजेंट फीचर्स हैं जैसे कि एचडी एमएस और बीआईएस ये सारे फीचर्स आने वाले समय में एक्सप्रेसवे के लिए बहुत ही बेंचमार्क सेट कर देंगे और साथ ही साथ ये पर्यावरण के अनुकूल भी होंगे। एक्सप्रेसवे को द्रुत या फिर द्रुतगामी मार्ग भी कहा जाता है।

एनएचएआई एवं राजमार्ग मंत्रालय के तहत इनका संचालन किया जाता है और इनके निर्माण और रख रखाव के लिए भी यही जिम्मेदार होते हैं। भारत में कुल परिचालित एक्सप्रेसवे लगभग 21-25 हैं। भारत में एक्सप्रेस वे की कुल लंबाई 15,814 किलोमीटर है। अहमदाबाद वडोदरा एक्सप्रेसवे को भारत में सर्वश्रेष्ठ एक्सप्रेसवे के रूप में जाना जाता है। यह 95 किलोमीटर लंबा है। भारत में सबसे लंबा एक्सप्रेसवे आगरा लखनऊ एक्सप्रेसवे है जोकि 302 किलोमीटर लंबा है। एक्सप्रेसवे पर दो पहिया वाहनों के लिए अधिकतम सीमा गति 80 किलोमीटर प्रतिघंटा है।

एनएच और एक्सप्रेस वे अंतर

एक्सप्रेसवे में सड़कें मल्टीप्ल नहीं होती हैं और इसकी पहुंच नियंत्रित होती है। कुछ निर्धारित जगहों से कहीं वाहन एक्सप्रेसवे पर पहुंच सकते हैं। एक्सप्रेसवे से न तो कोई सड़क जुड़ती है न ही किसी सड़क से होकर एक्सप्रेसवे गुजरता है। इसके कारण दुर्घटनाओं की संभावना भी कम हो जाती है। लेकिन नैशनल हाइवे के मामले में कई सड़कें ऐसी भी हैं जो कई स्थानों पर हाइवेज में मर्ज हो जाती हैं। हाइवे रोडवेज को दिया जाने वाला एक सामान्य शब्द है जो आम तौर पर महत्वपूर्ण शहरों गांवों इत्यादि को जोड़ता है और एक स्मूद ड्राइविंग एक्सपीरिएंस देने के लिए एक हाइवे पर आमतौर पर चार लेन होती हैं। लेकिन एक्सप्रेस वे एक उच्च गति वाली सड़कों का ढांचा होता है जिसमें कम सड़कें होती हैं या थोड़ी पहुंच होती हैं।

ये भी पढ़े:

Author

Hi, I'm Mantu Sing, में hindimepro.in वेबसाइट का संस्थापक हूं। में इस वेबसाइट में जीबनी परिचय, फुल फॉर्म, जानकारी के बारे में पोस्ट लिखता हूं।

Write A Comment