हेलो दोस्तो कैसे हो आप लोग उम्मीद करता हूं आप सब अच्छे होंगे। आप सभी को HindiMePro वेबसाइट में स्वागत है । आज फिर से आपके लिए और एक नया पोस्ट लेके आया हूं आज में आपको एटीएम का पूरा नाम क्या है ( ATM Full Form In Hindi ) बारे में बताऊंगा तो चलिए जानते है ।

एटीएम क्या है?

Contents hide

एटीएम एक Electronic Telecommunications Device है जिसका उपयोग लेनदेन जैसे की नगद निकासी, जमा, found transfer और अन्य बैंक की सम्भदित किसी भी समय लेनदेन के लिए किया जाता है ।ये बैंकिंग प्रक्रिया को बोहोत ही आसान बनता है क्यूंकि ये मेसिन आटोमेटिक है और बैंक कर्मचारिय के साथ सीधे बातचीत की कोई जरुरत नहीं है ।

एटीएम का अर्थ हिंदी में स्वचलित टेलर मशीन और इंग्लिश में इसे Automatic Teller Machine कहा जाता है। एटीएम ऑटोमेटेड टेलर मशीन होते हैं ये चौबीस घंटा रुपये निकालने और जमा करने के लिए सेवा प्रदान करता है। मतलब एटीएम जो है वह चौबीस घंटा ऑटोमैटिकली खुला रहता है और रुपये जमा करने के लिए और निकालने के लिए सेवा प्रदान करता है।

भारत में सभी व्यापारिक बैंक जैसे स्टेट बैंक इलाहाबाद बैंक और आईसीआईसीआई बैंक के द्वारा यह सुविधा अपने ग्राहकों को उपलब्ध कराई जाती है। भारत में जितने भी बैंक हैं जैसे कि जनपद में जो लोग जब स्टेट बैंक इलाहाबाद बैंक आईसीआईसीआई बैंक यह सब बैंकों में सुविधा अपने ग्राहकों को उपलब्ध कराई जाती है। एटीएम में एक गुप्त पिन नंबर होता है। जब आपके पास एटीएम होगा या आपके घर के पास या किसी के पास एटीएम होगा उसमें आप ध्यान से देखेंगे तो उसमें गुप्त पिन नंबर होगा जिसकी सहायता से एटीएम मशीन में डालने पर रुपये निकाला जाता है।

ATM Full Form In Hindi – एटीएम का पूरा नाम क्या है?

ATM Full Form In Banking

बैंकिंग में एटीएम का फुल फॉर्म Automated Teller Machine है।

ATM Full Form In Air Transport

हवाई परिवहन में एटीएम का फुल फॉर्म Air Traffic Management है।

ATM Full Form In Educational Organizations

शैक्षिक संगठन में एटीएम का फुल फॉर्म Association of Teachers of Mathematics है।

ATM Full Form In Specifications & Standards

विनिर्देशों और मानक में एटीएम का फुल फॉर्म Asynchronous Transfer Mode है।

ATM Full Form In Airport Codes

हवाई अड्डा कोड में एटीएम का फुल फॉर्म Altamira Airport है।

ATM Full Form In Weapons & Forces

हथियार और बल में एटीएम का फुल फॉर्म Anti-Tank Missile है।

ATM Full Form In Military

सैन्य में एटीएम का फुल फॉर्म Angkatan Tentera Malaysia है।

एटीएम का आविष्कार किसने किया था?

एटीएम का आविष्कार स्कॉटलैण्ड के इनवेस्टर जॉन शेफर्ड बैरन ने किया था।

एटीएम पहली मशीन कब और कहां लगाई गई थी?

एटीएम मशीन 27 जून 1167 में लंदन के बार्कलेज बैंक में लगाई गई थी ।

एटीएम में सबसे कम प्रयोग की जाने वाला पिन नंबर कौनसा है?

एटीएम में सबसे कम प्रयोग की जाना वाला पिन नंबर 8 0 6 8 है।

पहला तैरने वाला एटीएम कब और कहां लगाया गया था?

पहला तैरने वाला एटीएम केरल के कोच्चि में लगाया गया था। यह एटीएम स्टेट बैंक ऑफ इंडिया एसबीआई ने झंकार में लगाया था।

दुनिया में पहला केश लेने वाला एटीएम कहां लगाया गया था?

लंदन में बार्कलेज बैंक की एक शाखा में दुनिया का पहला केश लेने वाला एटीएम लगा था।

दुनिया का सबसे ऊंचा एटीएम कहां पर है?

पाकिस्तान के नेशनल बैंक ऑफ स्पिनर पाकिस्तान एनडीबी निकुम जुड़ाव दर्रा पर एटीएम को लगाकर एक नया रिकॉर्ड कायम किया है। ये एटीएम 15397 फीट की ऊंचाई पर स्थित दुनिया का सबसे ऊंचा एटीएम में हैं। इससे पहले दुनिया की सबसे ऊंची एटीएम का खिताब भारत के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया अवि के नाम था। ये एटीएम इंडियन बैंक को फिर इंडिया ने 2007 में 14300 फीट की ऊंचाई पर नापना में चीन और भारत को बोडोर पर लगाया था।

दुनिया में सबसे ज्यादा एटीएम कहां पर है?

दुनिया में सबसे ज्यादा एटीएम दक्षिण कोरिया में है।

दुनिया में सबसे कम एटीएम कहां पर है?

दुनिया में सबसे कम एटीएम अंटार्कटिका में हैं। यहां पर केवल एक ही एटीएम हैं। वैसे तो यहां दो एटीएम हैं लेकिन इनमें से सिर्फ एक ही मशीन काम करती है।

किस देश में एटीएम पिन के साथ फिंगरप्रिंट का उपयोग किया जाता है?

ब्राजील में बैंकिंग ट्रांजैक्शन और पासवर्ड को सुरक्षित बनाना के लिए बायोमेट्रिक एटीएम का इस्तेमाल किया जाता है। इन एटीएम पर फिंगरप्रिंट यानि फिंगर स्कैन करने पड़ते हैं जबकि दुनिया में इस ओर कहीं नहीं होता है।

दुनिया में कितनी एटीएम हैं और भारत में कितने एटीएम हैं?

पूरी दुनिया में लगभग 30 लाख एटीएम हैं जिसमें से करीब 2.5 लाख एटीएम भारत में हैं।

किस देश के लोग बिना बैंक अकाउंट के एटीएम से पैसे निकालते हैं?

रोमानिया में 84 प्रतिशत जनसंख्या के पास बैंक खाता यानी बांगड़ काउंटी नहीं है लेकिन फिर भी वहां के लोग एटीएम का प्रयोग करते हैं।

भारत में पहला यह एटीएम कब और कहां लगाया गया था?

भारत में पहला एटीएम सितम्बर 1987 को मुम्बई में लगाया गया था।

एटीएम के नुकसान

अगर आप किसी भी बैंक का एटीएम कार्ड इस्तेमाल करते हैं तो ये खबर आपके लिए है। जी हां आपको ये जानकर हैरानी होगी कि एटीएम कार्ड आपको ना सिर्फ पैसे निकालने में मदद करता है बल्कि इसकी कई और बड़ी सुविधाएं भी हैं और वो भी ऐसी सुविधाएं जिनके लिए आपको अलग से कोई चार्ज नहीं देना होता है।

आपको बता दें कि यदि आपके पास किसी प्राइवेट या गवर्नमेंट बैंक का एटीएम कार्ड है तो आपको फ्री में एक्सिडेंटल इंश्योरेंस मिल सकता है। दुर्घटना होने पर आप संबंधित बैंक से इंश्योरेंस के तहत मिलने वाली रकम ले सकते हैं। अधिकांश लोगों को इस नियम की जानकारी मिली कि बैंक अधिकारी आम लोगों को नहीं बताते। तो आइए आज हम आपको बता रहे हैं एटीएम कार्ड से जुड़ी आपके फायदों के बारे में।

सरकार से लेकर प्राइवेट बैंक तक सभी अपने कस्टमर्स को एक्सीडेंटल हॉस्पिटलाइजेशन कवर दर्ज करा देती है। ये इंश्योरेंस 50 हजार रुपए से लेकर 10 लाख रुपए तक का होता है। इसका फायदा कस्टमर्स को मिलता है जिनका बैंक अकाउंट अपडेशन होता है। इस स्कीम के तहत अगर किसी एटीएम की मौत हो जाती है तो उसके परिजनों को 2 से 5 महीने के भीतर बैंक की उस ब्रांच में जाना होगा जहां उसका अकाउंट है उसी ब्रांच में मुआवजे का एप्लिकेशन मुआवजा देने के पहले बैंक चेक करेगा कि संबंधित व्यक्ति 60 दिनों के अंदर वित्तीय लेनदेन किया है या नहीं। इसके तहत विकलांगता से लेकर मौत होने तक पर अलग अलग तरह के मुआवजे का प्रावधान है।

साधारण एटीएम मास्टरकार्ड क्लासिक एटीएम पर अलग अलग तरह मुआवजा राशि है। आप अपने बैंक में जाकर यह पता कर सकते हैं कि आपके कार्ड पर कितने का बीमा मिला हुआ है। हालांकि इसके लिए आपको सबसे पहले पुलिस को इन्फॉर्म करना होगा। पुलिस रिपोर्ट में घटना से जुड़े सारे तथ्यों का जिक्र होना जरूरी होता है।

एटीएम कार्ड कितने प्रकार होता है?

दोस्तो आज के समय में सभी लेन देन कैशलैस हो गए हैं यहां तक कि बिजली का बिल पानी का बिल गैस बिल ऑनलाइन खरीदारी में अन्य बहुत सारे ऐसे काम जो कैशलेस हो गए हैं। लेकिन दोस्तो एक समय ऐसा भी था जब हमें किसी भी लेनदेन के लिए या खरीदारी के लिए जब पैसे की आवश्यकता होती थी तो बैंक जाना पड़ता था और इसमें काफी समय खराब होता था और बैंक कर्मचारियों को भी काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता था। लेकिन दोस्तो अब ऐसा नहीं है क्योंकि अब हमारे पास एक चीज़ मौजूद है जिसे कहते हैं एटीएम। एटीएम यानि ऑटोमेटेड टेलर मशीन।

दोस्तो ये एटीएम तीन प्रकार के होते हैं मास्टरकार्ड, वीसा कार्ड और रुपे कार्ड जो कि बैंक द्वारा ग्राहक को वितरित किए जाते हैं।

सबसे पहले बात करते हैं मास्टरकार्ड की दोस्तो मास्टरकार्ड एक अमेरिकन कंपनी की सर्विस है जो दुनिया के किसी भी बैंक में लेनदेन व ऑनलाइन खरीदारी कराने में हमारी सहायता करती है। दूसरी है वीजा वीजा भी मास्टरकार्ड की तरह ही होती है इससे भी हम दुनिया के किसी बैंक में ट्रांजेक्शन में ऑनलाइन खरीदारी कर सकते हैं। तीसर आती है रुपे कार्ड की ये 26 मार्च सन् 2012 को हमारे ही देश में लॉन्च हुआ था। दोस्तो इसका एक माइनस पॉइंट है कि इसको हम सिर्फ अपने देश में ही लेन देन के लिए यूज कर सकते हैं।

आज हमने क्या सीखा?

आज की पोस्ट में हम्मे एटीएम क्या है, एटीएम का पूरा नाम ( ATM Full Form In Hindi ), एटीएम के प्रकार और बोहोत सारे एटीएम के रेलेटेड हमने सीखा। उम्मीद करता हूं आपको ये पोस्ट अच्छा लगा होगा अच्छा लगा हो तो इस पोस्ट को आप अपनी दोस्तो के साथ जरूर शेयर कर देना उनको भी पता चले की एटीएम की पूरा नाम के बारे में । तब तक के लिए जय हिन्द ।

Author

Hi, I'm Mantu Sing, में hindimepro.in वेबसाइट का संस्थापक हूं। में इस वेबसाइट में जीबनी परिचय, फुल फॉर्म, जानकारी के बारे में पोस्ट लिखता हूं।

Write A Comment